कैसे करें Stock Selection?

शेयर बाजार (Share Bazaar)

शेयर बाजार क्या है?
शेयर बाजार यानी इक्विटी मार्केट एक ऐसा प्लैटफॉर्म है, जो कंपनियों और निवेशकों को एक-दूसरे से जोड़ता है। कंपनियां पूंजी जुटाने के लिए शेयर बाजार में लिस्ट होती हैं। शेयर बाजार में लिस्टिंग के बाद निवेशक कंपनियों के शेयरों खरीदते -बेचते हैं।
बीएसई और एनएसई
भारत में दो बड़े शेयर बाजार हैं, बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज यानी कंपनी शेयर्स शेयर मार्केट में लिस्ट कैसे होते हैं? बीएसई और नैशनल स्टॉक एक्सचेंज यानी एनएसई। बीएसई एशिया का सबसे पुराना शेयर बाजार है। इसकी स्थापना 1895 में की कंपनी शेयर्स शेयर मार्केट में लिस्ट कैसे होते हैं? गई थी। एनएसई भारत का सबसे बड़ा और दुनिया का चौथा सबसे बड़ा शेयर बाजार है।
सेंसेक्स और निफ्टी
सेंसेक्स बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज यानी बीएसई का संवेदी सूचकांक है। सेंसेक्स में बीएसई की टॉप 30 कंपनियां शामिल की जाती हैं इसलिए इसे बीएसई 30 (BSE 30) भी कहते हैं। बाजार पूंजीकरण के हिसाब से सेंसेक्स में शामिल 30 कंपनियां बदलती रहती हैं।

IPO हो तो ऐसा! SME स्टॉक ने दिया 107% का रिटर्न, इसी महीने लिस्ट हुई थी कंपनी

IPO हो तो ऐसा! SME स्टॉक ने दिया 107% का रिटर्न, इसी महीने लिस्ट हुई थी कंपनी

स्टॉक मार्केट में कई ऐसी कंपनियां होती हैं जिनकी चर्चा कम होती है। Technopack Polymers उन्हीं में से एक है। कंपनी के शेयर 16 प्रतिशत की उछाल के साथ आज बीएसई में 114 रुपये के लेवल तक पहुंच गए थे। बता दें, SME स्टॉक ने मार्केट में 16 नवंबर को डेब्यू किया था। तब से अबतक यह कंपनी का उच्चतम स्तर है।

Technopack Polymers के शेयरों में लिस्टिंग के बाद से ही 107 प्रतिशत तक की उछाल देखने को मिली है। यानी जिस किसी निवेशक ने इश्यू प्राइस पर दांव लगाया होगा उसका रिटर्न दोगुना से अधिक हो गया होगा। बता दें, Technopack Polymers का इश्यू प्राइश 55 रुपये प्रति शेयर था।

क्यों शेयर बाजार से डीलिस्ट होती है कंपनियां, क्या होता है निवेशकों पर इसका असर?

क्यों शेयर बाजार से डीलिस्ट होती है कंपनियां, क्या होता है निवेशकों पर इसका असर?

साल 2021 को शेयर बाजार (Stock Market) के इतिहास कंपनी शेयर्स शेयर मार्केट में लिस्ट कैसे होते हैं? में आईपीओ (IPO) के साल के रूप में जाना जाता है. करीब 65 कंपनियों ने अपने शेयरों को बाजार में उतारकर कुल 1.29 लाख करोड़ रुपये जुटा लिए. आईपीओ के इस मेले ने शेयर बाजार में नए निवेशकों की कंपनी शेयर्स शेयर मार्केट में लिस्ट कैसे होते हैं? कतार लगा दी. कई आईपीओ में जबरदस्‍त पैसा कूटने से नए निवेशक काफी उत्‍साहित हैं. साहिल भी ऐसे ही एक निवेशक हैं उन्‍होंने एक आईपीओ में पैसा लगाया था और कंपनी शेयर्स शेयर मार्केट में लिस्ट कैसे होते हैं? उसमें उन्‍होंने खूब मुनाफा कमाया. लेकिन हाल में आई एक खबर से वे चकित रह गए. उन्‍होंने एक कंपनी में कई साल पहले पैसा लगाया था, जो अब शेयर बाजार से डीलिस्‍ट (delisting of share) हो रही है. यह क्‍या नई चीज आ गई यार… वे परेशान हो गए.

क्यों होती हैं कंपनियां डीलिस्ट

वैसे तो यह बहुत गंभीर और अनिष्‍टकारी जैसा लगता है, लेकिन सच तो यह है कि डीलिस्‍ट‍िंग हमेशा बुरी चीज नहीं होती. असल में यह अक्‍सर कंपनी के अनुरोध पर स्‍वैच्छिक रूप से होता है. दूसरी तरफ, जब कोई कंपनी बाजार नियामक SEBI द्वारा जबरन डीलिस्‍ट की जाती है, तो इसे कम्‍पल्‍सरी या अनिवार्य डीलिस्‍ट‍िंग कहते हैं.

यार पूरा मामला समझ में नहीं आ रहा…थोड़ा विस्‍तार से समझाओ… साहिल ने कहा… अतुल ने कहा… डोन्‍ट वरी… मैं बताता हूं. जब कोई कंपनी स्‍वैच्छिक रूप से डीलिस्‍ट‍िंग का ऐलान करती है तो वह रिवर्स बुक बिल्‍ड‍िंग प्रक्रिया कंपनी शेयर्स शेयर मार्केट में लिस्ट कैसे होते हैं? के द्वारा आम निवेशकों के पास मौजूद शेयरों को बायबैक करती है. इस प्रक्रिया के द्वारा आम शेयरधारकों को यह आजादी दी जाती है कि वे बायबैक के लिए उचित कीमत तय करें. जिस कीमत पर ज्‍यादा संख्‍या में बिड हासिल होता है, उसे बायबैक के लिए कट ऑफ कीमत मान लिया जाता है.

उदाहरण से समझें

उदाहरण के लिए साल 2012 में निरमा लिमिटेड ने स्‍वैच्छिक रूप से डीलिस्‍टंग की थी. कंपनी ने माइनॉरिटी शेयरहोल्‍डर्स की 18 फीसदी हिस्‍सेदारी 260 रुपये प्रति शेयर के भाव पर बायबैक कर लिया था. कंपनी कंपनी शेयर्स शेयर मार्केट में लिस्ट कैसे होते हैं? ने नए वैल्‍युएशन हासिल करने और FMCG, फार्मा, केमिकल्‍स, सीमेंट, पोर्ट्स, इन्‍फ्रास्‍ट्रक्‍चर और पावर जैसे अपने तमाम वर्टिकल की नए सिरे से लिस्‍ट‍िंग के लिए यह डीलिस्‍ट‍िंग की थी. बाद में कंपनी ने अपनी सीमेंट इकाई Nuvuco Vistas को एक्‍सचेंजों पर लिस्‍ट कराया.

अनिवार्य डीलिस्‍ट‍िंग के मामले में भी कंपनी शेयर्स शेयर मार्केट में लिस्ट कैसे होते हैं? कंपनी के प्रमोटर्स को पब्‍लिक के सभी शेयरों की बायबैक करनी होती है. हालांकि, इसमें किस कीमत पर शेयरों का बायबैक होगा, यह रिवर्स बुक बिल्‍ड‍िंग प्रॉसेस से नहीं बल्कि किसी स्‍वतंत्र मूल्‍यांकन एजेंसी के द्वारा तय किया जाता है. Lanco कंपनी शेयर्स शेयर मार्केट में लिस्ट कैसे होते हैं? Infratech और Moser Baer India ऐसे अनिवार्य डीलिस्‍ट‍िंग के कुछ उदाहरण हैं.

किसी कंपनी का शेयर खरीदने से पहले इस तरह चेक करें कि वह सस्ता है या महंगा, हमेशा फायदे में रहेंगे

ANISH KUMAR SINGH

Written By: ANISH KUMAR SINGH
Updated on: November 20, 2022 21:59 IST

शेयर - India TV Hindi

Photo:FILE शेयर

नई दिल्ली, अनीश कुमार सिंह। म्यूचुअल फंड से अपनी इन्वेस्टमेंट की यात्रा शुरू करने के बाद एक समय ऐसा आता है कि आप शेयरों को भी इन्वेस्टमेंट के लिहाज से खरीदकर लॉन्ग टर्म के लिए रखना चाहते हैं। ऐसे में बहुत से लोग पेनी स्टॉक में फंस जाते हैं। पेनी स्टॉक वैसे स्टॉक होते हैं जिनकी कीमत 50 रुपये प्रति शेयर से कम होती है। नए-नए इन्वेस्टर्स इन पेनी स्टॉक को सस्ता समझकर खरीद लेते हैं। चूंकि इस तरह के स्टॉक में Volatility यानी अस्थिरता ज्यादा होती है और इनमें से कई कंपनी शेयर्स शेयर मार्केट में लिस्ट कैसे होते हैं? फंडामेंटली स्ट्रॉन्ग भी नहीं होते, इसलिए नए-नए निवेशक इन पेनी कंपनी शेयर्स शेयर मार्केट में लिस्ट कैसे होते हैं? स्टॉक्स में उलझकर अपना बड़ा नुकसान कर लेते हैं। ऐसे नुकसान से बचने के लिए क्या करें, आइए जानते हैं।

सम्बंधित ख़बरें

दरअलस, रिटेल निवेशक (Retail Investor) भविष्य को ध्यान में रखकर शेयर बाजार (Stock Market) में निवेश करते हैं, क्योंकि उनका नजरिया लॉन्ग टर्म (Long Term) रहता है. लेकिन इसके बावजूद कंपनी शेयर्स शेयर मार्केट में लिस्ट कैसे होते हैं? अधिकतर रिटेल निवेशक वर्षों तक निवेशित रहने के बाद भी अच्छा मुनाफा नहीं कमा पाते हैं. इसका एक ही कारण स्टॉक (Stock Selection) का सही से चयन नहीं कर पाना है.

इसलिए दूसरे के कहने पर निवेश (Invest) करने से पहले आप खुद आसानी से अच्छे स्टॉक (Best Stock) का चयन कर सकते हैं. अच्छे स्टॉक में निवेश करने से भले ही शॉर्ट टर्म (Short Term) में बाजार में उतार-चढ़ाव की वजह से शेयर थोड़ा नीचे चला जाए और आपको अपने पोर्टफोलियो (Portfolio) में नुकसान दिखे. लेकिन Long Term में हमेशा अच्छे स्टॉक में रिटर्न देने की क्षमता होती है.

ऑनलाइन चुन सकते हैं बेहतरीन स्टॉक्स

रेटिंग: 4.22
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 466